भारत का नक्शा किसने बनाया था – india ka map kisne banaya tha

By | June 17, 2018





bharat ka nksha kisne banaya tha ,भारत का नक्शा किसने बनाया था india ka map kisne banaya tha भारत का नक्शा किसने और कब बनाया था , आज Satelite का युग है ,अंतरिक्ष  में सैंकड़ो उपग्रह भेजे गए है जिनकी हेल्प से दुनिया के किसी भी देश का सटीक और सही map  त्यार किया जा सकता है लेकिन क्या आप जानते है जिस जमाने में Satelite नहीं हुआ करते थे उस समय भारत का map  किसने त्यार किया होगा ,उस महान शख्श का नाम क्या है .

bharat ka nksha kisne banaya tha

bharat ka nksha kisne banaya tha




मानचित्र किसी भी देश की पूर्ण भौगोलिक स्थिति की सटीक जानकरी प्रदान करते है ,मानचित्र का अर्थ है मान +चित्र अर्थात किसी वस्तु या भूगोलिक स्थिति को चित्र द्वारा प्रदर्शित करना.

मानव द्वारा सर्व प्रथम धरती का मानचित्र कब और किसने बनाया इसकी कोई सटीक जानकारी नहीं है परन्तु mahabharat  के भीषम पर्व में श्लोक आता है जिसका जिसका अर्थ है चाँद से देखने पर ये prithvi  गोल दिखती है और इसका भू – भाग। पीपल के दो पत्तों और खरगोश की तरह दीखता है.

श्लोक :-

ॐ  सुदर्शनं प्रवक्ष्यामि द्वीपं तु कुरूनन्दन।

परिमण्डलो महाराज द्वीपोऽसौ चक्रसंस्थितः॥

यथा हि पुरुषः पश्येदादर्शे मुखमात्मनः।

एवं सुदर्शनद्वीपो दृश्यते चन्द्रमण्डले॥

द्विरंशे पिप्पलस्तत्र द्विरंशे च शशो महान्।”ॐ

—वेदव्यास, भीष्म पर्व, महाभारत

इस श्लोक को गुरु वेदव्यास जी ने भगवान् गणेश जी से लिखवाया था ,इसका मतलब ये हुआ इस दुनिया का पहला मानचित्र भगवान् गणेश जी ने बनाया है , क्यों की सम्पूर्ण महाभारत  श्री गणेश भगवान् जी ने ही लिखा है,  सो बात की एक बात है  prithvi का पहला नक्शा भी उन्होंने ही बनाया होगा

इसी श्लोक को समझ कर 11वीं शताब्दी में रामानुजाचार्य ने  धरती का आधुनिक नक्शा त्यार किया था.भारत का इतिहास लाखो वर्ष पुराण है उनसे पहले भी कई लोगो और ज्ञानिओ ने इसका नक्शा जरूर बनाया होगा lekin  समय के साथ इन का प्रमाण भी मिट गया है .

पुरातन काल में किसी भी देश की Geographic range निश्चित नहीं थी। हर 10-20 वर्ष बाद देश की सीमा बदलती रहती थी। कभी एक देश का राजा दूसरे देश को अपने राज्य में मिला लेता तो कभी कोई और ऐसा करता। उस time pe एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाना  भी बहुत चुनौतिओं भरा रहा होगा ,

आपने स्कूलों में पढ़ा होगा ब्रिटिश काल के विलियम लैम्बटन और जॉर्ज एवरेस्ट आधुनिक मानचित्र बनाने का श्रये दिया जाता है क्या ये सही है आईये देखते है  आधुनिक map का रचयिता कौन है   .कई लोगो ने bharat  ke nakshe  को बनाने  में  योगदान दिया है जिनके नाम इस प्रकार हैं

  1. बेबीलोनियन इमागो मुंडी
  2. अनक्सिमेन्डर
  3. हेकाटेयस
  4. इरेटोस्थनीज
  5. टॉलमी
  6. जॉर्ज एवरेस्ट ( लैंबटन और जॉर्ज एवरेस्ट )
  7. चौधरी रहमत अली

बेबीलोनियन इमागो मुंडी :- 

600 इसा पूर्व लगभग 2618 वर्ष पहले बेबीलोनियन इमागो मुंडी ने विश्व का मान चित्र बनाया इसमें उन्होंने विश्व के सातों द्वीपों को दिखाया था ,और साथ में विश्व के मुख्य मुख्य शहरों को भी दर्शाया था

अनक्सिमेन्डर :-

546 ईसा पूर्व अनक्सिमेन्डर ने पुरे विश्व मानचित्र बनाया था , इसमें उन्होंने जमीन और समुन्दर की जानकारी दी थी जो उस जमाने के हिसाब से ये काफी हद तक सही थी लेकिन ये मानचित्र bizarre था .आधुनिक world का पहला मैप बनाने के श्रेय अनक्सिमेन्डर को दिया जाना चाहिए .




हेकाटेयस :- 

476 इसा पूर्व हेकाटेयस द्वारा मानचित्र का निर्माण किया गया ,इसमें विश्व के प्रमुख देशो के साथ साथ भारत का उल्लेख था.

इरेटोस्थनीज :- 

ग्रीस के महान शासक सिकंदर ने 310 इसा पूर्व अपने गणितज्ञ इरेटोस्थनीज को आदेश दिया था की वो भारत का मानचित्र त्यार करे। इरेटोस्थनीज ने आज से लगभग 2318 वर्ष पहले इंडिया का मैप चित्र त्यार किया था

टॉलमी :- 

आप जानते है greek  के एक प्रसिद्ध दार्शनिक थे ,इन्होने कई पुस्तकें लिखी थी जिनमे से एक में इन्होने भारत का सटीक नक्शा दिखाया था

लैंबटन और जॉर्ज एवरेस्ट :-

इंडिया का  मानचित्र बनाने का श्रेय ब्रिटिश सरकार को भी जाता है उन्होंने एनविले को नक्शा बनाने का काम सौंपा था 1753 में एनविले ने इंडिया का पहला नक्शा त्यार किया। उसके बाद जेम्स रेंनेल ने भी भारत का नक्शा बनाया जो की ब्रिटिश सरकार के अधिकारी थे ,1 मई 1870 में जार्ज एवरेस्ट द्वारा बनाया गया  भारत  का मानचित्र प्रकाशित हुआ था .

चौधरी रहमत अली :-

आज जो bharat  का मैप हम देखते है इसको बनाने का कार्य chowdhary रहमत अली ने किया था 1947 में जब भारत आज़ाद हुआ और पाकिस्तान अलग देश बना उस समय चौधरी rahmat ali  ने आधुनिक india का पहला मान चित्र त्यार किया था। आज  उनके द्वारा बनाया गया मान स्कूलन और दफ्तरों की शान बड़ा रहा है.





इस लेख से आपको ज्ञात हो गया होगा भारत का नक्शा बनाने का श्रेय किसी एक व्यक्ति को नहीं जाता ,इस कार्य में कई महँ विभूतिओं ने अपना अपना योगदान दिया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *