बच्चो का दिमाग तेज करने के सीक्रेट-how to make your child genius

बच्चो का दिमाग तेज करने के सीक्रेट-how to make your child genius





बच्चो का दिमाग तेज करने के सीक्रेट -how to make child genius  बच्चों को जीनियस कैसे बनाये ,मैं ,आप और दुनिया के सभी माता पिता यही चाहते हैं  के उनके बच्चे जीनियस हो शिक्षा में या टेकनीकल में , स्पोर्ट्स में किसी न किसी फील्ड में सबसे आगे हों ,इसको आप ईगो नहीं कह सकते ये आपका अपने बच्चों के प्रति प्यार हैं,अगर आप चाहते हैं के आपके बच्चे की स्मरण शक्ति तेज हो जाये ,  एक बार पढ़ने से सब  याद हो जाये ,क्लास में फर्स्ट आएबच्चो का दिमाग तेज करने के




 

इसके लिए पयागा.कॉम आपके लिए कुछ सुझाव लेकर आया हैं जिनको आप समझ लें तो आपके बच्चे जीनियस बन सकते हैं,आपने  देखा होगा कुछ बच्चे पढ़ाई में इतने ज्यादा फ़ास्ट होते हैं वो खेलते खेलते सब लेक्चर याद कर लेते हैं ,और कुछ बच्चे सारा दिन किताबे लेकर बैठे रहते हैं लेकिन एग्जाम 60 % से ऊपर नहीं जा पाते ,


बच्चों के दिमाग तेज करने के उपाय

क्या कभी आपने सोचा हैं ऐसा क्यों ,क्या कभी आपके मन में ख्याल आया के स्मरण किया हुआ दिमाग में कहाँ स्टोर होता हैं , जो हम पढते हैं याद करते हैं सुनते हैं वो सब दिमाग के किसी ख़ास कोने में सेव हो जाता हैं  जब आप इस बात को समझ जाओगे के पढ़ा हुआ और याद किया हुआ दिमाग में कहाँ सेव होता हैं ,और दिमाग के उस ख़ास पॉइंट को कैसे एक्टिवेट किया जाये , कौन कौन सी चीजे उसको प्रभावित करती हैं,तब बहुत आसान हो जायेगा अपने बच्चों को जीनियस बनाना.


वैज्ञानिक अनुसंधानों से पता चला हैं के अगर हमारा सेरिब्रल कोर्टेक्स ज्यादा विकसित हैं तो हम किसी भी लेक्चर को एक बार पढ़ने से लम्बे समय तक याद रख सकते हैं .अब सवाल उठता हैं के इसको शक्तिशाली कैसे बनाया जाये ताकि स्मरण किया हुआ लम्बे समय तक याद रहे .


इसकी शुरुआत हमारे जनम लेने से बहुत पहले हो चुकी होती हैं ,ये क़ाबलियत हमें अपने माता पिता के जींस से मिलती हैं दूसरा अगर गर्भा अवस्था में माता को कुछ ख़ास चीजे खिलाई जाएँ तो पैदा होने वाले बच्चे की स्मरण शक्ति बहुत ज्यादा विकसित होती हैं वो जो भी एक बार पढ़ लेगा उसको सारी उम्र याद रहेगा .


जब छत्रपति शिवाजी महाराज जी की माता गर्भवती थी तो उनको सेब खाने का बहुत मन करता था,तभी तो उन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज जैसे पुत्र को जनम दिया ,


अगर कोई गर्भवती महिला एक दिन में कम से कम तीन मीठे सेब खाये लगातार नो महीने तक तो उसको जो ओलाद पैदा होती हैं उसकी स्मरण शक्ति बहुत ज्यादा विकसित होती हैं ,एक बार सुन लेने भर से उसको याद हो जायेगा ,


बच्चो का दिमाग तेज करने के

बच्चों को तेज दिमाग के लिए क्या खिलाएं

एक नुस्खा आपको बताने वाला हूँ इस आयुर्वेदिक नुस्खे को आप अपने बच्चों को खिलाएं इससे स्मरण किया हुआ याद रहेगा मानसिक शक्ति विकसित होगी ,

  • दूध 250 ml
  • बादाम गिरी पांच
  • चार मगज एक चमच
  • कुज्जा मिश्री एक चमच
  • शुद्ध गाए का घी एक चमच
  • ब्राह्मी बूटी पाउडर एक चमच

सबसे पहले व्राह्मी बूटी का इंतज़ाम कर लें ,इसको आप अपने घर में भी उगा सकते हैं या किसी  पंसारी की दुकान से खरीद लाएं फिर उसको पीस कर पाउडर बना के रख लें ,सुबह पांच बादाम और एक चमच चार मगज  एक कटोरी पानी में भिगो के रख लें शाम को चार पांच बजे बादाम के छिलके उतार कर सिल बट्टे में पीस कर बारीक पेस्ट बनालें ,




बादाम चार मगज का पेस्ट जितना ज्यादा नरम और मुलायम बने उतना ज्यादा अच्छा ,अब एक कड़ाही में एक दो चमच घी डाल कर धीमी आंच पर  गरम करें  घी अच्छी तरह गरम होने पर उसमे बादाम और चार मगज का पेस्ट डाल एक दो बार कलछी से हिलाते हुए उसमे दूध डाल दें और ब्राह्मी बूटी का एक चमच डालें जब अच्छी तरह उबाल जाये तो उसमे मिश्री मिला के ठंडा होने पर बच्चे को पीला दें ऐसा प्रतिदिन  सात -आठ महीने पिलाने से आपके बच्चे की स्मरण शक्ति तेज हो जाएगी.

साबधानी —

  • ये योग सिर्फ 9th -10th के स्टूडेंट्स के लिए हैं ,
  • 14 साल से ऊपर 50- 60  साल की उम्र तक कोई भी इसको पी सकता हैं ,
  • अगर छोटे बच्चे पी भी लें तो नुक्सान नहीं होता ,क्यों के ये आयुर्वेदिक ओषधि हैं .
  • इसका प्रयोग अप्रैल से अक्टूबर तक कभी भी कर सकते हैं ,
  • नवंबर दिसंबर जनवरी फरबरी के महीनो में ब्राह्मी बूटी का सेवन नहीं करना चाहिए , इसकी तासीर ठंडी होती हैं .
  • अगर छोटे बच्चों को पिलाना हो तो ब्राह्मी बूटी एक चौथाई चमच और बादाम दो ही डालें ,चार मगज भी एक चौथाई चमच ,इस से ज्यादा नहीं

tips — ब्राह्मी बूटी हरी और ताजी मिले तो सबसे बेस्ट हैं ,


इस आर्टिकल में आपको बच्चो का दिमाग तेज करने के सीक्रेट फॉर्मूले बताये गये हैं .मैं आशा करता हूँ के ये सीक्रेट आप किसी को न बताएं ,क्यों के राज को राज रहने दो ,और एक बात अगर कोई पुरुष या महिला शादी से पहले एक साल ब्रह्मचर्य का पालन करते हुए इस योग को पीते हैं तो बच्चे स्वस्थ और हष्टपुष्ट पैदा होते हैं ,उनको सारी उम्र विटामिन डी की कमी नहीं होगी और जनम से ही उनका दिमाग जीनियस की तरह होगा .
ins{background:#fff}

CSS

ins.adsbygoogle { background: transparent !important; }




Leave a Comment