आम के आम गुठलियों के दाम -mango

आम के आम गुठलियों के दाम -mango





कुछ बस्तुएं कितनी उपयोगी हो सकती है जिनको हम फालतू का कचरा समझ कर डस्टबीन में फेंक देते है .उन बस्तुओं में छुपे हुए औषधीय गुण मानव शरीर की कितनी बिमारिओ की ठीक कर सकते है ,जो महंगी महंगी दवाइओं से रोग ठीक नहीं होते वो उन साधारण बस्तुओं से हो जाते है जिनको हम खाने का बचा हुआ कचरा समझते है ,आज पयागा डॉट कॉम आपके लिए कुछ ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आया है ,

आम के आम गुठलियों के दाम




 

  1. क्या आप जानते है मुर्गी के अंडे के छिलके से कई प्रकार की ओषधियाँ बनाई जा सकती ,जिनको अपने कूड़ेदान में फेंक दिया ,अंडे के छिलके में 75% calcium होता है पुराने जमाने में जड़िओ बूटिओं के ज्ञाता ,अंडे के छिलको की भस्म बनाते थे जिसको  कुकुटाण्डत्वक भस्म कहते हैं ,इस भस्म के प्रयोग से स्त्रिओं और पुरषो के कई रोगों का इलाज होता था ,

बरसात के मौसम में आम बहुत ज्यादा खाये जाते है लेकिन आम की गुठलिओं को बेकार समझते है .आम की गुठलिओं में कितने गुण होते है ,कितने गंभीर रोग ठीक हो सकते है जिन रोगो को बड़े बड़े डॉक्टर अपनी महंगी दवाईओं से ठीक नहीं कर सकते ,

पांच किलो पक्के हुए आम की गुठली का मगज निकाल कर सूखा लें ,अच्छी तरह सूखने पर उसको कूट कर चूर्ण बना लें इसको किसी एयर टाइट डिब्बे में बंद कर के रख लें ,

1)–.>बच्चों को दस्त लगने पर २ चुटकी चूर्ण की थोड़े से शहद में मिलाकर कर चटाने से दस्त बंद हो जाते है .

2)—>इस चूर्ण को गरम पानी के साथ लेने से पेट के सभी प्रकार के कीड़े ,ख़तम हो जाते है .

3)—>गंजे लोगो के लिए इस चूर्ण के दो चमच एक कटोरी नारियल तेल में में डाल कर शास्त्र विधि अनुसार तेल बनावे और 40 दिनों तक इस तेल को अपने सर पर लगाए तो बाल काले और घने हो जाते है .

4)—>आम की गुठलिओं के आधा ग्राम चूर्ण को बेल के मुरब्बे के साथ खाने से आंब रोग ठीक हो जाता है ,दस्त बंद हो जाते है .

5)—>जो बच्चे मिटटी खाते है ,उनको १/४ ग्राम चूर्ण पानी के साथ खिलने से उनकी मिटटी खाने की आदत छूट जाती है .

6)—>गर्मिओ में दस्त लगे हो तो २ ग्राम इस चूर्ण को दहीं में डाल कर खाने से दस्त बंद हो जाते हैं

7)—>इस चूर्ण का तेल बनाकर अर्थराइटिस के रोगी को मालिश की जाये तो रोग में बहुत आराम मिलता है .




8)—>छोटे बच्चों को चुन्ने काटते हो तो आम की गुठली का चूर्ण १ रति वयवडिंग का चूर्ण १ रति दोनो को मिलाकर खिलाने से चुन्ने काटना बंद हो जाते है .

9)—>आम की गुठली का क्वाथ बनाकर पीने से गर्मिओ में राहत मिलती है

10)—>दांतो से खून आता हो तो इस चूर्ण को मसूड़ों पर मंजन की तरह मलने से कुछ दिनों में मसूड़े ठीक हो जाते है खून आना बंद हो जाता है

11)—>आम की गुठली में रक्त को रोकने की शक्ति होती है , स्त्रिओं में मासिक धर्म में अधिक रक्त आता हो .
नकसीर के रोगी को नाक से अधिक खून बहता है , या बबासीर के मरीज को अधिक खून आता है ,तो आम की गुठली का चूर्ण 2 रति सुबह शाम छाछ के साथ देने से सभी प्रकार रक्त प्रमेह ठीक हो जाते है.

इसलिए तो कहते है आम के आम गुठलिओं के दाम , देखा आपने एक मामूली सी दिखने वाली आम की गुठली आपके कितने रोगो को ठीक कर सकती है .अगली बार आम खाने के बाद गुठली को एक बार जरूर देखना और सोचना इस इस गुठली से आप कितने रोगो को ठीक कर सकते हो .

 


Leave a Comment